गुरु चाणक्य ने बताया अगर ख़ुश रहना है तो दूर रहो इन चीजों से

गुरु चाणक्य बहुत ही विद्वान व्यक्ति थे और साथ ही साथ एक महान शिक्षक भी  थे

अगर कोई मनुष्य खुस नहीं रहता है तो इसमें भाग्य की कमी नहीं है कमी है तो सिर्फ उस मनुष्य की |

गुरु चाणक्य ने बताया के मनुष्य को अगर खुस रहना है तो इन चीजों से दूर रहना होगा |

अगर आप खुस रहना चाहते हो तो आपको अपने अहंकार को हमेशा के लिए त्यागना होगा |

जीवन की खुसी चुस्त रहने मैं है इसलिए कभी भीआलस ना आने दें अगर खुस रहना चाहते हो तो |

गुरु चाणक्य बोलते हैं कभी भी दिखावा न करें क्यों की दिखावा मनुष्य को बर्बाद कर देता है |

अगर जीवन मैं खुसी चाहिए तो सबसे पहले क्रोध की त्याग दो |

क्योकि क्रोध हमारे सोचने की छमता नस्ट कर देता है और हम वो कर बैठते है जो नहीं करना होता |