आज सभी जगह गणेश जी के जैकारे गूँज रहे है और उत्सव बहुत अचे से मनाया जा रहा है

स्टेज के साथ साथ सभी के घर घर मैं बाप्पा विराजमान हैं

बहुत ही विधि विधान से बाप्पा की अर्चना की जाती है और बाप्पा १० दिन तक विराजमान रहते हैं

१० दिन बाद एक दिन आता है अनंत चतुर्थी उस दिन होता है बाप्पा का विसर्जन

इस बार वो अनंत चतुर्थी है ९ सितम्बर को है | और बाप्पा का विसर्जन भी उसी  दिन होना चाहिए

कुछ लोग अपनी श्रद्धा के अनुसार ९ या ८ दिन मैं भी विषर्जन क्र देते हैं |

कल के दिन तीन शुभ महूर्त हैं

पहला शुभ महूर्त सुबह ६ बजे से १० बजे तक का शुभ महूर्त है

दूसरा शुभ मुहूर्त १२ बजे से १ बजे  तक है।

तीसरा शुभ मुहूर्त 05बजे से शाम 06 बजे तक रहेगा।

इस शुभ महूर्त मैं आप अपनी श्रद्धा के अनुसार कभी भी विसर्जन कर सकते हैं