अगर पैसा नहीं है तो सबसे पहले चींटी, बगुला, और मकड़ी से कुछ सीखो |

इनसे सीखना है के संघर्ष क्या होता है, इनसे सीखना है के मेहनत कैसे होती है |

अगर धन एकत्रित करना है तो ये भूल जाओ के एक साथ आपके पास पैसा आ जायेगा |

गुरु चाणक्य के अनुसार अगर सच मैं धन कामना है तो धीरे धीरे पैसा जमा करना सीखो बचाना सीखो |

अगर पैसा कमाना है तो चिंता करना छोड़ो क्युकी चिंता इंसान का ध्यान भंग करती है |

आपका ध्यान बस पैसो को एकत्रित करने पर होना चाहिए ध्यान भटका को नहीं होगा कुछ |

आपको कपट से दूर रहना है हमेशा अगर कपट करोगे किसी से तो कभी कामयाब नहीं होंगे |

गुरु चाणक्य के अनुसार हमेशा परोपकार की भावना रखें और अपने कर्तव्यों को पूरा करें |

गुरु चाणक्य के इन बातों का ध्यान रखें और आगे बढ़ें |