ताजमहल को शाहजहां ने अपनी बेगम मुमताज के लिए बनवाया था।

शाहजहां 5 वे मुगल बादशाह थे जिन्होंने 1628 से 1658 तक राज किया था।

शाहजहां का असली नाम साहब चीन मोहम्मद खुर्रम था।

शाहजहां ने ताजमहल अपनी प्रिय बेगम मुमताज के लिए बनवाया था।

ताजमहल को बनाने में मजदूरों को पूरे 21 साल लगे थे।

ताजमहल को सन 1632 में बनाना शुरू किया था और 1653 में पूरी तरह बनकर तैयार हुआ था।

शाहजहां ने ताजमहल का डिजाइन बनाने के लिए उस्ताद अहमद लाहौरी को चुना था।

ताजमहल की खास बात यह है कि ये सूर्य की रोशनी के हिसाब से पूरे दिन में यह कई रंग बदलतास है।